बिहार बोर्ड मैट्रिक रिजल्ट ( BSEB Bihar Board Matric Result 2020 ) आज दोपहर के बाद कभी भी जारी हो सकता है। बीएसईबी 10वीं रिजल्ट जारी होने के साथ ही करीब 15 लाख स्टूडेंट्स का इंतजार खत्म हो जाएगा। सूत्रों के मुताबिक बिहार बोर्ड वेबसाइट पर रिजल्ट अपलोडिंग, टॉपर इंटरव्यू, वेरिफिकेशन, मेरिट लिस्ट जैसे कार्य पूरे करके रिजल्ट को अंतिम रूप दे चुका है। बिहार बोर्ड इस बार रिजल्ट की प्रेस कॉन्फ्रेंस न करके विज्ञप्ति जारी करेगा। विज्ञप्ति में टॉपर, पास प्रतिशत, उत्तीर्ण विद्यार्थियों की संख्या, स्क्रूटिनी, सप्लीमेंट्री शेड्यूल जैसी जानकारियां होंगी। 

रेगुलर अपडेट के लिए इस लिंक पर बने रहें और रिफ्रेश करते रहें।

निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके जाने अपना 10वीं का रिजल्ट

Bihar School Exmaination Board-Link

India Result- Link

विद्यार्थियों को यह समय व्यर्थ नहीं करना चाहिए। यहां हम बता रहे हैं वो 4 काम जो उन्हें रिजल्ट की घोषणा से पहले करने चाहिए- 

1. 11वीं में प्रवेश लेते समय आपको साइंस, कॉमर्स व आर्ट्स में से किसी एक को चुनना होगा। फैसले से पहले जरूरी है कि आप हर स्ट्रीम की पूरी जानकारी लें। आर्टस हो, विज्ञान हो या फिर कॉमर्स। हर स्ट्रीम में आगे क्या संभावनाएं है, आपकी रूचि के हिसाब से क्या वो स्ट्रीम आपके लिए बेहतर है। ये जानना बेहद जरूरी है। आमतौर पर देखा जाता है कि स्ट्रीम चयन में माता पिता का दबाव देखने को मिलता है ज्यादातर छात्र अपने अभिभावकों के दबाव में आकर स्ट्रीम का चयन तो कर लेते हैं लेकिन अपने इच्छानुसार स्ट्रीम न मिलने के कारण अपना बेस्ट नहीं दे पाते। इसीलिए जरूरी है कि किसी के दबाव में आकर कोई फैसला न लें। अपने दिमाग में पहले ये सेट कर लें कि आपकी रुचि किस सब्जेक्ट में है और भविष्य में क्या बनना चाहते हैं। उस हिसाब से आर्ट्स, कॉमर्स या साइंस चुनें।

निर्णय लेने के दौरान इन बातों पर गौर करना चाहिए-
– रुचि को दें प्राथमिकता
– जुनून का आकलन करें
– अपनी शक्तियों और कमजोरियों का विश्लेषण करें
– सही करियर विकल्प की पहचान करें
– दूसरों की मदद लें
– ज्यादा कंफ्यूजन हो तो करियर काउंसलर से बात कर स्ट्रीम चुनें
– लोगों की नहीं करें परवाह
– अपने वरिष्ठ / अभिभावक / शिक्षक के साथ चर्चा करें।

2. री-चेकिंग के लिए रहें तैयार
याद रखें और हिसाब लगाएं कि आपको किस विषय में कितने मार्क्स की उम्मीद है। आपका उस विषय का पेपर कैसा गया था। रिजल्ट में अगर उम्मीद से नंबर बहुत कम आते हैं तो आप री-चेकिंग का ऑप्शन भी चुन सकते हैं। लेकिन आप अपने टीचरों की मदद से अभी से ये हिसाब लगा लें कि विभिन्न विषयों में आपके कितने नंबर आ सकते हैं। 

3.  मानसिक तनाव न लें और सक्सेस स्टोरीज़ पढ़ें 
रिजल्ट आने से पहले, उसके आने पर और उसके आने के बाद आपको तनाव लेने की जरूरत नहीं है। मार्क्स ही सब कुछ नहीं होते हैं। देश और दुनिया में एक से एक सफल लोगों की कहानियां पढ़ें, उनके संघर्ष की गाथाएं जानें, आपको पता लग जाएगा कि मार्क्स कतई आपके करियर का फैसला नहीं कर सकते। टॉपर होना, औसत अंक आना या फेल होने जैसी बातें इस बात की गारंटी नहीं होते कि आप भविष्य में कितने कामयाब होंगे या फिर आप कितने पैसे कमाएंगे। 

Visits: 339

By Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: